Posts tagged “Sunday

कुछ पल अपनों के साथ

रोज रविबार की दोपहर को

कुछ वक़्त बिताता हूँ मेरे फूल पोधों के साथ

अछा लगता है 😊

कुछ बातें करता हूँ, हँसता गाता हूँ

कुछ रूठे हुए को मनाता हूँ

उनका रूठना भी जाहिर ही है

हफ्तेमें एक ही तो दिन दे पाता हूँ

 

कुछों में फूल आ गए हैं

पतों की खुश्बू से घर महेक ने लगी हैं

बड़े हो गएँ हैं सारे

अब तो भवरें भी आने लगे हैं

जवान जो हो गए हैं मेरे पौधें

खुबसूरत तो थे ही हमेशा से 😊

 

अछा लगता है

वक़्त बिताना अपनों के साथ

चार बातें करते हैं

दो बातें वो करते हैं, दो बातें हम 😊